हल्द्वानी मेडिकल कालेज में पीजी की 26 सीटों में बढोतरी

0
170

अब पोस्ट ग्रेजुएशन की चाह रखने वाले डॉक्टरों की राह आसान

देहरादून। प्रदेश के हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज में एमडी एमएस की 26 सीटों में‍ बढ़ोतरी की गई है। अब पोस्ट ग्रेजुएशन की चाह रखने वाले डॉक्टरों के लिए पीजी करने के अधिक विकल्प होंगे। और राज्य को अधिक संख्या में विशेषज्ञ डॉक्टर मिल सकेंगे।

प्रदेश में लगभग 995 सरकारी अस्पतालों में डॉक्टरों के 2711 स्वीकृत पदों में से 1615 पद खाली पड़े हैं। स्पेशलिस्ट व सुपर स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की गणना की जाए तो और भी गंभीर स्थिति सामने आएगी। ऐसे में मानव संसाधन के लिहाज से नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना व स्थापित कॉलेजों को अधिक सुदृढ़ बनाने की कवायद चल रही है।

इसी के तर्ज पर हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज में पीजी की सीटें 39 से बढकर 65 हो गई हैं। चिकित्सा शिक्षा विभाग को इस संबंध में पत्र प्राप्त हो गया है। एमडी-एमएस में 50 फीसद सीट आल इंडिया, जबकि शेष राज्य कोटे की होती हैं। सीट बढोत्तरी मेडिसन, नेत्र, सर्जरी, बाल रोग व एनेस्थीसिया में हुई है। निकट भविष्य में हल्द्वानी में एमबीबीएस की भी 50 सीट बढाने का प्रस्ताव है। जिसके बाद एमबीबीएस की सीट 100 से बढकर 150 हो जाएंगी।

इसके अलावा पिथौरागढ़, कोटद्वार, भगवानपुर, रुद्रपुर व अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेजों की भी राह खुल चुकी है। जिसके बाद डॉक्टर बनने के इच्छुक छात्रों को और भी कई अवसर मिलेंगे। चिकित्सा शिक्षा निदेशक डॉ. आशुतोष सयाना ने बताया कि सीट बढने से पोस्ट ग्रेजुऐशन की योग्यता हासिल करना चाह रहे एमबीबीएस डॉक्टरों के लिए अधिक विकल्प होंगे। प्रयास किया जा रहा है कि हल्द्वानी मेडिकल कालेज में चार सीट गाइनी की भी मिल जाए।

loading...
Previous articleशहीद कपूर ने शेयर की बेटी मीशा की क्यूट तस्वीर
Next articleइस अधिकारी ने उठाया बिछड़ों को अपनों से मिलवाने का बीड़ा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here