राज्य सहकारी बैंक के चेयरमैन बने भाजपा के दान सिंह रावत

0
81
  • चुनाव से एन पहले कांग्रेस के चार डायरेक्टरों के भाजपा में शामिल होने से पलटा पांसा
  • संख्या बल कम होने से कांग्रेस ने मैदान छोड़ किया चुनाव से किनारा, निर्विरोध चुने गए दान सिंह

देहरादून: उत्तराखंड राज्य सहकारी बैंक के चुनाव में कांग्रेस को पराजय का सामना करना पड़ा। पर्याप्त संख्याबल होने के बावजूद कांग्रेस आखिरी में गच्चा खा गई, जब उसके चार डायरेक्टरों ने भाजपा का दामन थाम लिया। बोर्ड डायरेक्टरों का संख्या बल कम होने के चलते कांग्रेस ने चेयरमैन पद के लिए अपने प्रत्याशी का नामांकन ही नहीं कराया। कांग्रेस के मैदान छोड़ने के कारण भाजपा के दान सिंह रावत निर्विरोध चेयरमैन चुन लिए गए। चेरमैन बनने के बाद सहकारिता मंत्री डा.धन सिंह रावत, परिवहन मंत्री यशपाल आर्य ने दान सिंह का फूलमालाओं से स्वागत किया।

राज्य सहकारी बैंक के चेयरमैन पद के लिए मंगलवार सुबह बरेली रोड हल्द्वानी स्थित सहकारी बैंक मुख्यालय में निर्वाचन की प्रक्रिया शुरू हुई। निर्वाचन अधिकारी एपी बाजपेयी ने मताधिकार करने वाले बोर्ड के 11 सदस्यों की सूची जारी की। इसी बीच प्रदेश सरकार ने दान सिंह रावत को सदस्य नामित कर दिया, जिससे बोर्ड सदस्यों की संख 12 हो गई। दान सिंह नामित सदस्य बनाए जाने के बाद भाजपा का संख्या बल बढ़कर 8 हो गया। भाजपा ने सर्वसम्मति से दान सिंह रावत को चेयरमैन पद का प्रत्याशी घोषित कर दिया। संख्याबल कम होने पर कांग्रेस चेयरमैन पद के लिए प्रत्याशी का नामांकन करने नहीं पहुंची। इस तरह दान सिंह रावत को राज्य सहकारी बैंक का निर्विरोध चेयरमैन घोषित किया गया।

गौरतलब है कि मंगलवार को चुनाव से ठीक एक दिन पहले सोमवार को भाजपा ने कांग्रेस को चुनाव मैदान से बाहर कर दिया था। चेयरमैन के चुनाव के लिए 11 सदस्यों को वोट डालने थे। सोमवार सुबह तक भाजपा के पास मात्र 3 सदस्य थे। कांग्रेस आठ सदस्यों के समर्थन के साथ बहुमत में थी। सहकारिता मंत्री धन सिंह रावत, परिवहन मंत्री यशपाल आर्य और चुनाव संयोजक बिशन सिंह चुफाल ने सोमवार शाम तक कांग्रेस के चार सदस्यों को भाजपा में शामिल करवाकर पासा पलट दिया। इसके बाद कांग्रेस के पास मात्र चार सदस्य रह गए। इसके चलते कांग्रेस ने चुनाव में प्रतिभाग ही नहीं किया और भाजपा की ओर से नामित दान सिंह रावत निर्विरोध रूप से चेयरमैन बन गए।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here