उत्तरकाशी का एक गांव जलकर राख, 29 मकान और…

0
38
उत्तरकाशी का एक गांव जलकर राख, 29 मकान और...
उत्तरकाशी का एक गांव जलकर राख, 29 मकान और...........

उत्तरकाशी: उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के सुदूरवर्ती क्षेत्र मोरी ब्लाक का सावणी गांव गुरुवार आधी रात को भीषण अग्निकांड की भेंट चढ़ गया। इस अग्निकांड में हालांकि कोई जनहानि नहीं हुई परन्तु 34 मकानों में से 29 पूरी तरह जल कर राख हो चुके हैं और इसके अलावा दस गोशालाओं में 100 से ज्यादा मवेशी जिंदा जल गए।

स्थानीय लोगों के अनुसार गुरुवार को आधी रात के बाद करीब एक बजे गांव के एक घर से आग लपटें निकलने लगीं। घर के लोगों ने बाहर निकल कर शोर मचाया और गांव के लोगों ने आग बुझाने की कई कोशिसें की पर आग कितनी भीषण थी के आग ने एक के बाद एक कई मकानों को अपनी चपेट में ले लिया। आग का विकराल रूप देखकर सावणी के ग्राम प्रधान ज्ञान सिंह ने रात ढाई बजे किसी तरह फोन पर प्रशासन को सूचना दी। प्रशासन की टीम सुबह करीब सात बजे पहुंची। तब तक आग काफी हद तक बुझ चुकी थी।

मुख्यमंत्री ने घटना पर दुख जताया है। उन्होंने जिलाधिकारी को प्रभावित परिवारों को सहायता व राहत प्रदान करने के निर्देश दिए हैं। फिलहाल जिला प्रशासन की टीम राहत कार्य में जुटी है और प्रभावित परिवारों को गांव के पास ही प्राथमिक व जूनियर हाईस्कूल के भवनों में ठहराया गया है।

जिलाधिकारी डॉ.आशीष चौहान ने बताया कि अभी आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है, लेकिन गांव के अधिकतर सभी मकान लकड़ी के बने हैं और लोगों ने मवेशियों के लिए सूखी घास भी एकत्र कर रखी थी। इस वजह से आग तेजी से फैली होगी। डॉ.आशीष चौहान ने बताया कि यह इलाका बेहद दुर्गम होने के कारण यहां अग्निशमन वाहन का पहुंचना नामुमिकन है।

हादसे से प्रभावित गांव वासियों के लिए प्रशासन ने स्कूल भवनों में व्यवस्था की है। तत्काल सहायता के तौर पर प्रत्येक परिवार को 3800-3800 रुपये की धनराशि वितरित की गई। उन्होंने बताया कि खच्चरों से राहत सामग्री भेजी जा चुकी है। डीएम के अनुसार पुरोला के एसडीएम पीएस राणा राहत कार्य पर नजर रखने के लिए गांव में ही हैं ।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here