जानिए बच्चे परीक्षाओं में कैसे रखें बढ़ते तनाव को कोसों दूर

0
16
जानिए बच्चे परीक्षाओं में कैसे रखें बढ़ते तनाव को कोसों दूर
जानिए बच्चे परीक्षाओं में कैसे रखें बढ़ते तनाव को कोसों दूर

अक्सर आपने देखा ही होगा की जैसे ही परीक्षाओं के दिन नजदीक आ जाते है वैसे ही बच्चों के चेहरे से हंसी गायब हो जाती है और सिर्फ तनाव देखने को मिलता है। परीक्षाओं के दिनों में मानसिक तनाव होना आम बात है। इस तनाव को खुद पर बिल्कुल भी हावी न होने दें । अगर आप तनावग्रस्त होंगे तो आप परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाएंगे।

परीक्षाओं के दिनों मे सबसे महत्वपूर्ण भूमिका अभिभावकों की होती है। आज के इस दौर में हर मां-बाप अपने बच्चे को आगे बढ़ता देखना चाहते है और अपने बच्चों पर जरूरत से अधिक दबाव डाल देते है। जिससे बच्चा और भी अधिक तनाव में आ जाता है । ऐसे में अभिभावकों को चाहिए कि उस पर जरूरत से अधिक दबाव न डालें।

अगर आपको जरा भी लगे के आपका बच्चा जरूरत से अधिक तनाव ले रहा है तो आपको इन बातों का खास ख्याल रखना चाहिए:-

एक स्वस्थ वातावरण जी हां एक शांत और स्वस्थ वातावरण में ही बच्चा अपनी परीक्षाओं की अच्छी तैयारी कर सकता है । जरुरत से ज्यादा तनाव चेहरे पर थकान बन कर दिखने लगता है। वो चेहरे से ही थका हुआ दिखेगा और ये ही नहीं वो चिड़चिड़ा,कमजोर तो होगा ही साथ ही उसको भूख न लगना, पेट की प्रॉब्लम और पिछले पड़ा हुआ सब भूल जाना आदि प्रॉब्लम का सामना करना पड़ेगा ऐसे में बेहतर होगा के आप जल्द से जल्द किसी अच्छे मनोचिकित्सक की सलाह लें।

परीक्षाओं के दिनों में रखें इन बातों का खास ख्याल:-

आमतौर पर बच्चे पूरे साल खेलते और मस्ती करते हैं और जब परीक्षाओं के दिन नजदीक आते हैं तो सारी दिनचर्या को उलटफेर कर देते हैं । ऐसे में उनको जो बदलाव करना होता है उसको 2-3 महीने पहले ही कर देना चाहिए ।

जब परीक्षाओं का वक़्त नजदीक आता है तब बच्चे सारी पढ़ाई एक ही दिन में पूरी करने लगतें है जिससे वो बाकि का पढ़ा लिखा सब भूल जाते हैं और ऐसे में भूल जाने की बीमारी को जन्म दे देतें हैं। हर टॉपिक को समझने में थोड़ा समय तो लगता ही है ऐसे में जहाँ भी समस्या दिखे वही शिक्षक की मदद लेने चाहिए ।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here