केदारनाथ : एनजीटी ने सात हेली कंपनियों की सेवाओं पर लगाई रोक

0
166
फाइल फोटो

नेशनल ग्रीन ट्राइव्यूनल (एनजीटी) ने केदारनाथ में हवाई सेवा दे रही सात कंपनियों पर रोक लगा दी है। इन कंपनियों पर एनजीटी के साथ ही नागरिक उड्डयन विभाग द्वारा निर्धारित नियमों एवं शर्तों को पूरा न करने के चलते रोक लगाई गई है। इन कंपनियों पर आरोप है कि लंबे वक्त से नियम कायदों की अनदेखी करते हुए घाटी में उड़ान भर रही थीं। इस बाबत हेली कंपनियों को पूर्व में भी चेताया जा चुका था, मगर इसके बावजूद इनकी मनमानी रुक नहीं रही थी। ऐसे में एनजीटी ने कड़ा फैसला लेते हुए इनकी सेवाओं पर रोक लगा दी।

केदारनाथ में कुल नौ हेली कांपनियां सेवा दे रही थीं, जिनमें से दो कंपनियां ही मानकों पर खरी उतर पाई हैं।

केदारनाथ में सेवा देने वाली कंपनियों द्वारा की जाने वाली मनमानी की खबरें आए दिन सामने आती रहती हैं। कंपनियों के खिलाफ लगातार बढ़ती शिकायतों को देखते हुए नागरिक उड्डयन विभाग ने इन्हें सचेत करते हुए सभी जरूरी शर्तों को पूरा करने के निर्देश दिए थे। हेली कंपनियों के खिलाफ नेशनल ग्रीन ट्राइव्यूनल में यह शिकायत भी पहुंची थी कि ये कंपनियां बेहद नीची उऊंचाई पर उड़ रही हैं, जिसके चलते वन्य जीवों के जीवन पर खतरा बढ़ रहा है। इस शिकायत का संज्ञान लेते हुए एनजीटी ने इन कंपनियों को तय ऊंचाई पर उड़ने को कहा था।

रुद्रप्रयाग जिले के जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि नागरिक उड्डयन विभाग की ओर से जानकारी दी गई कि केदारघाटी में संचालित हवाई सेवाएं शर्तों एवं नियमों का पालन नहीं कर रही हैं, ऐसे में इन हेली सेवाओं की उड़ानों पर रोक लगा दी गई है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here