पूर्व सीएम हरीश रावत पहले से बेहतर, तीन दिन तक अस्पताल में रहेंगे भर्ती

0
24

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की हालत अब पहले से बेहतर है। पैर में दर्द की शिकायत के बाद मंगलवार को सीएमआई अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्हें पिछले कुछ दिनों से पैर में दर्द हो रहा था, जो मंगलवार को काफी बढ़ गया।

अस्पताल के निदेशक डा. महेश कुड़ियाल ने बताया कि अगले तीन दिन वह अस्पताल में डॉक्टरों की निगरानी में रहेंगे। वहीं देर रात मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने अस्पताल पहुंचकर उनका हाल-चाल पूछा।

हरीश रावत के मुख्य प्रवक्ता सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि हरीश रावत को पिछले कुछ दिनों से पैर में दर्द की शिकायत थी. इस पर उन्होंने दून मेडिकल कालेज (दून अस्पताल) में डॉक्टरों को दिखाया था.

इसके बाद फिर से परेशानी होने लगी तो हरीश रावत को सीएमआई अस्पताल में दिखाया तो जांच के लिए डॉक्टरों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कर लिया गया है. जांच नतीजे आ गए है और डॉक्टरों ने पैर दर्द का इलाज शुरू करने की सलाह दी है.

हरीश रावत का इलाज कर रहे डॉक्टर प्रवीन जिंदल के अनुसार हरीश रावत के पांव में ब्लड क्लोटिंग हुई है. जिसके कारण उन्हें बार बार दर्द और सूजन की शिकायत हो रही है. उन्होंने कहा इलाज के बाद हरीश रावत को काफी आराम मिला है. डॉक्टर ने पूर्व मुख्यमंत्री को 24 से 48 घंटे की अब्सर्वशन में रखा है.

मेडिकल साइंस में इस बीमारी को डीप वीन थ्रोम्बोसिस कहा जाता है. डॉक्टर जिंदल के अनुसार अगर यह क्लॉट दिल तक पहुंच जाए तो जान का खतरा भी हो सकता है.

इसीलिए मरीज़ को ऑब्ज़र्वेशन में रखा गया है. पहले डॉक्टर दवाओं से इस खून के थक्के को हटाने की कोशिश करेंगे और ऐसा नहीं हो पाता तो ऑपरेशन किया जाएगा.

कमल रावत के अनुसार पूर्व सीएम को कई दिनों से तकलीफ हो रही थी. मंगलवार को दर्द बढ़ने के बाद उन्हें अस्पताल लाया गया. सीएमआई के निदेशक डा. महेश कुड़ियाल ने बताया कि अगले 48 घंटे तक पूर्व सीएम को निरीक्षण में रखा गया है. डा. कुड़ियाल ने बताया कि उनके बायें पांव में ब्लड क्लोटिंग हो गई थी. जिस वजह से उन्हें दर्द हुआ. अगर क्लोटिंग दिल तक पहुंचती तो खतरा हो सकता था. उन्हें खून पतला करने की दवा दी जा रही है. अगले कुछ दिन वह आराम करेंगे.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here