उत्तराखंड के शिक्षक कौस्तुभ चंद्र जोशी हुए राष्ट्रपति पुरस्कार के लिए चयनित

0
53
उत्तराखंड के शिक्षक कौस्तुभ चंद्र जोशी हुए राष्ट्रपति पुरस्कार के लिए चयनित
उत्तराखंड के शिक्षक कौस्तुभ चंद्र जोशी हुए राष्ट्रपति पुरस्कार के लिए चयनित

पिथौरागढ़ के राइंका पत्थरखानी के शिक्षक कौस्तुभ चंद्र जोशी को राष्ट्रपति पुरस्कार के लिए चुना गया है। यह पुरस्कार पांच सितंबर को दिल्ली में राष्ट्रपति द्वारा दिया जायेगा।

पिथौरागढ़: पिथौरागढ़ जिले के राजकिय इंटर काॅलेज पत्थरखानी के शिक्षक ‘कौस्तुभ चंद्र जोशी’ को ‘इंफॉर्मेशन कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी’ (आईसीटी) के कार्यों के लिए राष्ट्रपति पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है। यह पुरस्कार मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से घोषित किया गया है। यह पुरस्कार 11 सितंबर को राष्ट्रपति द्वारा दिया जाएगा।

कौस्तुभ चंद्र जोशी ने स्वयं की वेबसाइट तैयार कर के कक्षा 9 से 12 तक के सभी विषयों के अध्याय अपलोड किये हैं। प्रधानाचार्य के पद पर कार्यरत कौस्तुभ चंद्र जोशी मूल रूप से गणाईगंगोली तहसील के लाखतोली गांव के निवासी हैं।

ये भी पढ़ें: दून मेडिकल कॉलेज में खुलेगी टाटा ग्रुप की कैंसर यूनिट

कौस्तुभ चंद्र जोशी ने प्राइमरी विद्यालय नरू वाद्योल, राइंका गणाई गंगोली, राइंका से इंटर तक की शिक्षा लेने के बाद उन्होंने एमएससी और बीएड की उपाधि पिथौरागढ़ महाविद्यालय से प्राप्त की है।

विभिन्न विद्यालयों में प्रवक्ता के पद पर सेवाएं देने के बाद सितंबर 2016 में उन्होंने राइंका पत्थरखानी में प्रधानाचार्य का पद संभाला।

कौस्तुभ चंद्र जोशी ने शिक्षण में इंफॉर्मेशन एंड कंप्यूटर टेक्नोलॉजी (आईसीटी) का बेहतरीन उपयोग करने के लिए उन्हें राष्ट्रपति पुरस्कार के लिए चुना गया है।

ये भी पढ़ें: चार बच्चों संग आत्मदाह करने पहुंची महिला, मचा हड़कंप

उन्होंने कक्षा 9 से 12 तक के बच्चों के लिए खुद की वेबसाइट तैयार की है। जिसका उपयोग देश के तमाम राज्यों के लोग कर रहे हैं। राज्य की पहली शिक्षक विज्ञान कांग्रेस में उन्हें उत्कृष्ट प्रोजेक्ट अवार्ड प्राप्त हो चुका है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here