चार बच्चों संग आत्मदाह करने पहुंची महिला, मचा हड़कंप

0
478
चार बच्चों संग आत्मदाह करने पहुंची महिला, मचा हड़कंप
चार बच्चों संग आत्मदाह करने पहुंची महिला, मचा हड़कंप

विधवा महिला अपने चार बच्चों संग कमिश्नरी पहुंची और आत्मदाह करने की चेतावनी दी। महिला दबंगों के उत्पीड़न से बेहद परेशान है और न्याय की गुहार लगा रही है।

दबंगों के उत्पीड़न से परेशान महिला पहुंची कमिश्नरी

नैनीताल: स्वतंत्रता दिवस के मौकेे पर नैनीताल जिले के पुलिस प्रशासन में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब एक विधवा महिला आत्मदाह की चेतावनी देने कमिश्नरी पहुंची।

ये भी पढ़ें: अब आप भी घूम सकते है कम बजट में उत्तराखंड की इन खूबसूरत वादियों में…

यह मामला नैनीताल जिले के भवाली गांव का है। यहाँ पुलिस प्रशासन में उस समय खलबली मच गयी। जब आजादी के जश्न के दौरान एक महिला अपने चार बच्चों को लेकर के कमिश्नरी पहुंच गयी और आत्महत्या करने की चेतावनी देने लगी।

जहां एक ओर पूरा देश आजादी के पर्व को हर्षउल्लास के साथ मना रहा था वहीं दूसरी ओर भवाली गांव की एक दलित विधवा दबंगों के उत्पीड़न से परेशान होकर अपने चार बच्चों के साथ आत्महत्या करने के लिए कमिश्नरी पंहुच गयी।

महिला ने लगाई न्याय की गुहार

महिला का आरोप है कि भूमिधरी जमीन पर उसका हक होने के बावजूद भी पलिका बार-बार नोटिस भेजकर महिला को परेशान कर रही है तो वहीं कुछ दबंग भी महिला को जान से मार डालने की बार -बार धमकी दे रहे हैं। महिला ने बताया कि दो नाली 13 मुट्ठी भूमि की भूमिधरी उसके नाम है। पालिका उस भूमि पर झूठा दावा करते हुए उसे परेशान कर रही है।

ये भी पढ़े : चार साल बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा केदारनाथ…

भूमाफियाओं की नजर पर है जमीन

पीड़िता ने बताया कि उसकी यह जमीन बीच बाजार क्षेत्र में होने की वजह से भूमाफिया भी इस जमीन पर नजर लगाये हुए हैं। जमीन उसकी होने के बावजूद भी यहां पर महिला को झोपड़ी का निर्माण नहीं करने दिया जा रहा है।

इस पूरे मामले की जानकारी मिलते ही एसडीएम वंदना सिंह और तहसीलदार कृष्ण राम महिला को समझाने के लिए पहुंच गए। उक्त मामले को लेकर भारतीय जनता पार्टी महिला के समर्थन में खड़ी है तो वहीं अनुसूचित जाति आयोग का फैसला पीड़िता के पक्ष में हैं।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here