ITBP के दो जवानों पर हत्या का मुकदमा दर्ज, गोली चलने पर कांवड़िये की हुई थी मौत

0
15

हरिद्वार : कांवड़ मेले के दौरान आईटीबीपी जवान की गोली से झज्जर हरियाणा निवासी युवक विकास की मौत होने के मामले में शहर कोतवाली पुलिस ने आईटीबीपी की पंचकुला छावनी के दोनों जवान नितेश राणा और संतोष चटर्जी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

घटना कांवड़ मेले के दौरान 15 जुलाई को हुई थी। तब मुकदमा दर्ज न होने पर परिजनों ने हरियाणा सरकार से हस्तक्षेप की मांग की थी। रविवार को परिजन हरिद्वार पहुंचे और हरिद्वार कोतवाली में आईटीबीपी के दो जवानों के खिलाफ नामजद तहरीर दी। पुलिस ने आईटीबीपी की पंचकूला छावनी के दोनों जवानों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

 

ये भी पढ़े : शराब दुकान के विरोध में भूख हड़ताल पर बैठी जिला पंचायत सदस्य

कांवड़ मेले के दौरान बीते 15 जुलाई को सर्वानंद घाट पर आईटीबीपी जवान की राइफल से गोली चलने पर हरियाणा के झज्जर जिले के माजरा गांव निवासी कांवड़िया विकास गंभीर रूप से घायल हो गया था। देहरादून रैफर करने के दौरान उसकी मौत हो गई थी। शुरूआती पड़ताल में पता चला था कि गोली किसी दूसरे जवान ने चलाई है। परिजन तभी से जवानों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग करते आ रहे थे। परिजनो  ने पूरे मामले की सीबीआई जांच के लिए हरियाणा सरकार से हस्तक्षेप करने की मांग भी उठाई थी।

रविवार को परिजन हरिद्वार कोतवाली पहुंचे और आईटीबीपी की 50वीं बटालियन के जवान संतोष चटर्जी और नितीश राणा के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने मृतक विकास के पिता कृष्ण कुमार की तहरीर पर तत्काल दोनों जवानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। माना जा रहा है कि हरियाणा सरकार के प्रदेश सरकार से हस्तक्षेप के चलते पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने में देर नहीं लगाई। कार्यवाहक कोतवाली प्रभारी अजय सिंह ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

केस दर्ज होने पर भी छिपाती रही पुलिस

पुलिस घटना के दौरान विकास को कांवड़िया मानने से इनकार करती रही। जिलाधिकारी और एसएसपी ने बाकायदा रात में प्रेस कांन्फ्रेंस कर युवक के कांवड़िया होने पर संदेह जताया था। हालांकि अगले ही दिन उसके कांवड़िया होने की पुष्टि कर दी गई थी। अब रविवार को मुकदमा दर्ज होने के बाद भी पुलिस जवानों पर मुकदमा दर्ज होने की बात छिपाती रही।

ये भी पढ़े : सरकार को शिक्षकों की दो टूक, नहीं पहनेंगे ‘वर्दी’

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here