प्राइवेट स्कूलों की मनमानी पर लगेगी रोकः हरक सिंह रावत

0
271

वन मंत्री ने ली शिक्षा विभाग के अधिकारियों की बैठक:

‘प्रवेश शुल्क को मासिक शुल्क में किया जाए समायोजित’

कोटद्वारः वन मंत्री डा. हरक सिंह रावत ने प्राइवेट स्कूलों की मनमानी पर अंकुश लगाने के लिए शिक्षा विभाग एवं स्थानीय प्रशासन को सख्त कदम उठाने के निर्देश दिये। रविवार को अपने आवास पर शिक्षा विभाग के अधिकारियों की बैठक लेते हुए वन मंत्री डा. हरक सिंह रावत ने कहा कि वर्तमान में जगह-जगह खुले अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों के संचालक विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों से मनमानी फीस ले रहे हैं, जो कि मानकों के विरुद्ध है।

डा. हरक सिंह रावत ने कहा कि कई अभिभावकों ने उन्हें सूचना दी है कि प्राइवेट स्कूलों के संचालक फीस, ड्रेस, किताबों सहित बिल्डिंग फंड के नाम पर उनसे फीस वसूल रहे हैं और एक बार एडमिशन होने के बाद अगली कक्षा में जाने भी बच्चों से दोगुनी फीस ली जा रही है, जिससे आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को मुश्किलें झेलनी पड़ रही हैं। उन्होंने कहा कि भविष्य में किसी भी प्राइवेट स्कूल के संचालकों की मनमानी की शिकायत आने पर उक्त स्कूल के साथ ही जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ भी कड़ी कार्यवाही की जायेगी।

प्राइवेट स्कूलों में अनुभवी शिक्षकों को न रखते हुए कामचलाऊ व्यवस्था कर बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है। उन्होंने कामचलाऊ व्यवस्था को हटाकर स्थाई व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये।

इस मौके पर एसडीएम राकेश तिवारी, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक हरेराम यादव, उप शिक्षा अधिकारी अभिषेक शुक्ला, जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुमन कोटनाला, नगर पालिका अध्यक्ष रश्मि राणा और पूर्व जिलाध्यक्ष धीरेन्द्र चौहान मौजूद थे।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here