पांच हजार अतिथि शिक्षकों को सरकार ने दी राहत

0
25

देहरादून  : दो माह से नियुक्ति का इंतजार कर रहे पांच हजार से ज्यादा अतिथि शिक्षकों को आखिरकार सरकार ने राहत दे दी। उन्हें संविदा पर नियुक्ति तो मिलेगी, लेकिन इसके लिए अनुबंध पत्र भरना होगा। प्रधानाचार्य अभ्यर्थी को अनुबंधित करते हुए तैनाती देंगे। चयनित विद्यालय में काम नहीं करने के इच्छुक शिक्षक को दूसरे विद्यालय में तैनाती के लिए नए सिरे से आवेदन करना होगा।
इन शिक्षकों का चयन मेरिट के आधार पर निदेशालय स्तर पर किया जाएगा। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय के मुताबिक प्रवक्ता व एलटी के पदों पर नियुक्त होने वाले शिक्षकों को दुर्गम क्षेत्रों में ही तैनाती मिलेगी। साथ ही सीधी भर्ती के दस फीसद पदों को छोड़ा जाएगा। रिक्त पदों पर अतिथि शिक्षकों को तीन फीसद से पांच फीसद तक अधिमान दिया जाएगा।
हाईकोर्ट के दो माह के लिए अतिथि शिक्षकों को सेवा पर रखे जाने के आदेश के पालन में सरकार एहतियात बरतती दिखी है। अपर मुख्य सचिव शिक्षा डॉ रणबीर सिंह के आदेश के मुताबिक माध्यमिक विद्यालयों में बड़ी संख्या में पद रिक्त होने के चलते शैक्षिक सत्र 2017-18 में प्रवक्ता एवं एलटी पदों पर अस्थाई अथवा संविदा के आधार पर शिक्षकों का चयन किया जाएगा।
शैक्षिक उपलब्धियों की मेरिट के आधार पर ये नियुक्ति लोक सेवा आयोग या अधीनस्थ सेवा चयन आयोग से नियमित अभ्यर्थियों के योगदान देने अथवा एक सत्र तक के लिए होगी। नियुक्ति में आरक्षण व आयु सीमा नियमों के मुताबिक लागू होंगे।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here