उत्तराखंड के एक और जांबाज को राष्ट्रपति पुरस्कार

0
43
  • आजादी के 68वें गणतंत्र दिवस के मौके पर सराहनीय सेवाओं के लिए राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी सीआरपीएफ के जवान किशोर प्रसाद को पुलिस पदक से नवाजेंगे

देहरादून: केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) में तैनात उत्तराखंड का एक और जांबाज राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित होगा। राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी आजादी के दिन 68वें गणतंत्र दिवस के मौके पर किशोर प्रसाद को सराहनीय सेवाओं के लिए सम्मानित करेंगे।

केन्द्रीय रिर्जव पुलिस बल में कमांडेंट देहरादून निवासी किशोर प्रसाद को सराहनीय सेवाओं के लिए गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रपति द्वारा पुलिस मेडल से सम्मानित किया जाएगा। किशोर जम्मू कश्मीर के बारामुला जिले में तैनात हैं।

मूल रूप से टिहरी जिले के कंडारस्यूं पट्टी के रहने वाले किशोर प्रसाद का परिवार वर्तमान में देहरादून के जोगीवाला में रहता है। गुरू रामराय पीजी कॉलेज देहरादून से एमएससी भौतिकी से पास करने वाले किशोर ने वर्ष 1993 में सीआरपीएफ में सहायक कमांडेंट के पद पर नियुक्ति हुए थे। वे लम्बे समय से उग्रवाद प्रभावित मणिपुर, जम्मू कश्मीर समेत अन्य राज्य में तैनात रहे।

किशोर प्रसाद ने देश के नक्सल प्रभावित राज्यों में भी अपनी सेवाएं दी हैं। अब तक की सराहनीय सेवाओं के लिए उन्हें इस साल गणतंत्र दिवस के मौके पर राष्ट्रपति द्वारा पुलिस मेडल से सम्मानित किया जा रहा है। इसके साथ ही पुलिस मेडल प्राप्त करने वाले किशोर प्रसाद आपदा प्रबन्धन क्षेत्र में प्रशिक्षण देते हैं। इसके लिए उन्होंने अमेरिका समेत कई अन्य देशों से खुद प्रशिक्षण प्राप्त किया है।

पुलिस पदक से सम्मानित होने पर देहरादून में निवास कर रही उनकी पत्नी ऊषा, पुत्र शशांक और शेखर ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि 23 सालों की सराहनीय सेवा के बाद उन्हें विपरीत परिस्थितियों में बेहतर तरीके से काम करने के लिए यह अवार्ड मिला है। उनकी पत्नी ऊषा का कहना है कि यह सिर्फ उनके पति और परिवार का सम्मान नहीं है, बल्कि इससे पूरे उत्तराखंड और देश गौरव बढ़ा है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here