पूर्व सरपंच ने ज़मीन दान कर ग्रामीणों के सड़क निर्माण के सपने को किया पूरा

0
123

सोमेश्वर : तहसील के लखनाड़ी ग्रामसभा के निवासी पूर्व सैनिक व पूर्व सरपंच राम सिंह रावत ने अपने क्षेत्र की करीब 12 सौ की आबादी के दस साल से प्रतीक्षित सड़क सपने को पूरा करने का प्रेरणादायी काम किया है। उन्होंने सड़क निर्माण प्रारंभ करने के लिए अपनी जमीन दान कर दी और बहुप्रतीक्षित लखनाड़ी सड़क का काम भी आरंभ हो गया। अब क्षेत्र के ग्रामीणों को मुख्य सड़क तक पहुंचने के लिए सात किमी पैदल नहीं चलना पड़ेगा।

दरअसल, दस सालों से लखनाड़ी से अलग-अलग गांवों को जोड़ते हुए टना गांव तक सड़क की मांग चल रही थी। सड़क सुविधा नहीं होने से ग्रामीणों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। बाद में गांव के लिए प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत 3.99 करोड़ की लागत रोड बनाने के लिए मंजूरी मिली। मंजूरी तो मिली, मगर भूमि संबंधी अड़चन के कारण निर्माण नहीं हो पा रहा था।

पूर्व में इसका सर्वे ग्राम जाल व रेत से हुआ, मगर बन नहीं सकी। इधर स्वीकृत सड़क के निर्माण में रोड़ा देखते हुए बरगला ग्राम निवासी पूर्व सैनिक एवं पूर्व सरपंच राम सिंह रावत पुत्र स्व. हयात सिंह रावत आगे आए। उन्होंने सड़क के लिए प्रारंभ बिंदु पर ही अपने माता-पिता की स्मृति में दो नाली जमीन दान दे दी।

क्षेत्र के विकास की चाह में उन्होंने यह कदम उठाया। यहां तक जहां से सड़क निर्माण आरंभ हुआ है, उसी के करीब उनका मकान पड़ता है, सड़क निर्माण में उनके मकान की सीढि़यां भी टूट रही हैं। मगर उन्होंने इस पर भी अनापत्ति दे दी। उनके कदम से अन्य ग्रामीणों ने भी प्रेरणा ली।

उनकी क्षेत्र में सराहना हो रही है। अब हाल में इस सड़क का निर्माण आरंभ हो गया है और करीब दो किमी सड़क कटान हो चुका है। इससे ग्रामीण खुश हैं। सात किमी लंबी सड़क से लखनाड़ी, कुटलगढ़, ढामुक, बरगला, सपणा, मणी व टना गांवों की करीब 12 सौ की आबादी को लाभ मिलेगा। उन्हें अब मुख्य सड़क तक पहुंचने के लिए सात किमी का पैदल सफर नहीं करना पड़ेगा।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here